JP Morgan Chase Bank ने SEBI को 22.1 लाख रुपए जुर्माने के तौर पर दिये

0
316
JP Morgan Chase Bank SEBI Fine
JP Morgan Chase Bank SEBI Fine

JP Morgan Chase Bank SEBI Fine 2023: JP Morgan Chase Bank द्वारा SEBI (FPI Regulation) विनियम 2019 के कथित उल्लंघन के मामले में 22.10 लाख रुपए का भुगतान किया है.

क्या है पूरी कहानी? JP Morgan Chase Bank SEBI Fine 2023

JP Morgan Chase Bank ने निष्कर्षों को माने या ना माने बिना मुकदमे का निपटारा किया. SEBI एफपीआई रेगुलेशन (FPI Regulation) 2019 के अनुसार केवल पंजीकृत विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक ही प्रतिभूति बाजार में हिस्सा ले सकते हैं. अगस्त 2021 में SEBI ने जेपी मॉर्गन से एक पत्र मिला.

इन्हें भी पढ़े

FIMM के साथ FMRC का विलय और FPI पंजीकरण बंद

जिसमें नियामक को फैडलिटी इन्वेस्टमेंट मनी मैनेजमेंट (FIMM) की सामग्री में बदलाव की सूचना मिली. इस सूचना में सहयोगी फैडलिटी मैनेजमेंट एंड रिसर्च कंपनी (FMRC) के साथ विलय भी शामिल था.

इस letter में SEBI को यह भी पता चला कि फैडलिटी इन्वेस्टमेंट मनी मैनेजमेंट (FIMM) की सामग्री जानकारी में जो बदलाव हुआ है उसके बारे में बताने में देरी हुई है. इस विलय के बाद फिडेलिटी मैनेजमेंट एंड रिसर्च कंपनी (FMRC) का FPI पंजीकरण बंद हो गया.

इन्हें भी पढ़े

JP Morgan Chase Bank ने SEBI को 22.1 लाख रुपए देकर किया मामलें का निपटारा

बाद में सभी को पता चला कि विलय की गई इकाई ने (FPI) एफपीआई पंजीकरण प्राप्त नहीं किया था. और प्रतिभूति बाजार में नाम खातों और पंजीकरण के तहत काम भी कर रही है. इस विलय की जानकारी मिलने के बाद SEBI ने JP Morgan Chase Bank के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी.

क्योंकि डिपॉजिटरी भागीदारी FMRC को प्रतिभूति बाजार में व्यापार करने से रोकने में असफल रहा. JP Morgan Chase Bank के प्रतिनिधियों ने सेबी की आंतरिक समिति से एक मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद उन्होंने ना तो इसे स्वीकारा और ना ही इसे अस्वीकार किया और मामले को 22.10 लाख रुपए में भुगतान करके कथित तौर पर इसके निपटारे पर जोर दिया.